Chauri chaura kand चौरी-चौरा कांड का इतिहास

[Chauri chaura kand] चौरी-चौरा कांड भारत की Modern History का एक बहुत महत्वपूर्ण पहलु रहा है। आज जब इस Chauri chaura kand को 100 साल पुरे होने वाले है। तो हम आपको इसके इतिहास से रूबरू करा रहे है।

इसी घटना की वजह से गांधीजी को Non – Cooperative movement बंद करना पड़ा था।

Chauri chaura kand kya था ?

उत्तरप्रदेश के Gorakhpur district में एक छोटा सा town का नाम है “चौरी- चौरा ” . सन 1920 में गांधी जी ने स्वदेशी आंदोलन के तहत पूरे देश के लोगों से अपील की कि विदेशी सामान का बहिष्कार करे और स्वदेशी सामान को अपनाएं। गाँधी जी के आंदोलन को सहयोग देते हुए  जनता ने विदेशी सामान का बहिष्कार करना शुरू कर दिया था

Non Cooperation movement असहयोग आंदोलन के तहत देश भर में विदेशी सामान के खिलाफ लोगों ने आंदोलन शुरू कर दिया था। Chauri chaura kand चौरी-चौरा में उस समय विदेशी कपड़ों का बहुत बड़ा बाजार हुआ करता था। जिसके ख़िलाफ़ वहाँ के लोगो में बहुत ग़ुस्सा था।

chauri chaura kand in hindi

02 feb 1922 में एक रिटायर आर्मी ऑफिसर Bhagwan ahir ने कुछ साथिओं के साथ विदेशी सामान / बढ़ती कीमतों और शराब की बिक्री को लेकर एक Protest शुरू किया।  इसी आंदोलन में लोग विदेशी कपड़ों की दुकानें , शराब की दुकानों के खिलाफ लोग धरना दिया।

घरना के ख़िलाफ़ पुलिस वालों ने जमीदारों की मदद से लोगों पर लाठियां बरसानी शुरू कर दी। और local police ने लोगो को पीटकर जेल में डाल दिया। लोगों पर फर्जी मुकदमा कर दिए। जब यह बात पब्लिक को पता चली तो लोगों के अंदर गुस्सा भर गया और फर्जी मुकदमे के विरोध में चौरी चौरा के लोगों ने 4 फरवरी 1922 को चौरी चौरा थाने का घेराव किया।

देखते देखते लोगो  भीड़ बढ़ती  रही थी। भीड़ को देखकर थाना अधिकारी ने गोलियां चलानी शुरू कर दी जिससे आंदोलन कर रहे 3 लोगों की मृत्यु हो गई।  जिसके कारण लोगों की आक्रोशित भीड़ ने पूरे थाने में आग लगा दी। इस अग्निकांड में 23 पुलिसवालों की मृत्यु हो गई थी chauri chaura kand kab hua tha

इस पुरे कांड में जान माल का बहुत ज्यादा नुकसान हुआ जिसको देखते हुए गाँधी जी को बहुत बुरा लगा एवं उन्होंने इसी कांड के बाद असहयोग आंदोलन वापिस ले लिया और गाँधी जी इस कांड से इतना दुखी हो गए थे की उन्होंने इसके लिए 5 दिन का उपवास रखा।

04 feb 2022 में इस चौरी चौरा कांड को 100 साल पुरे होने वाले है।

Leave a Comment