Computer Software क्या है। यह कितने प्रकार के होते है।

Computer Software क्या हें |

कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर

हमने अभी तक स्कूल में पढ़ा हें  की कंप्यूटर के ऐसे पार्ट्स  जिन्हें हम छू नहीं सकते केवल देख सकते हें उन्हें computer Software कहते हें

Software से हम सभी भलीभांति परिचित हें जब भी हम अपने स्मार्ट फ़ोन या कंप्यूटर System को देखते हें तो उसमे दिखने वाला कोई भी प्रोग्राम Software का ही हिस्सा होता हें  कंप्यूटर में चलने वाले सभी प्रोग्राम Software ही  होते हें  जो अलग अलग प्रकार के होते हें।

Computer Software की परिभाषा

निर्देशों, प्रोग्राम्स का ऐसा समूह जो किसी काम को भलीभाति कर सके उसे Software कहते हें

Set of instructions and programs which is used to operate computers and execute specific tasks are called computer software.

Software को programming language के दुआरा बनाया जाता हें PL में बहुत सारे rules और Function होते हें जिनकी help से  computer को instruction देते हें इन instruction की help से छोटे – छोटे  program बनाते हें

फिर बाद में सभी छोटे – छोटे program को जोड़ कर एक software बनाया जाता हें जिसके दुआरा कंप्यूटर पर  specific task perform किया जाता हे

Software दो प्रकार के होते हें

  1. System Software
  2. Application Software

System Software :

जैसा की आपको इसके नाम से पता चल रहा हें | ये Software System को चलाने के लिए एक मंच प्रदान करते हें | System Software  ही कंप्यूटर और हार्डवेयर पार्ट्स को मैनेज (कंट्रोल) करते हें सिस्टम सॉफ्टवेर आपके कंप्यूटर के background में काम करते हें

कंप्यूटर को स्टार्ट करते वक्त इसमें System Software (BIOS basic input output system) रन होते हें जो कंप्यूटर को कंट्रोल करते हें | और कंप्यूटर के हार्डवेयर और यूजर के बीच के सभी ऑपरेशन को मैनेज करते हें

System Software ही यूजर दुआरा दिए गए इनपुट डाटा को कंप्यूटर के समझने योग्य भाषा में बदल देते हें जिससे कंप्यूटर System यूजर की इनफार्मेशन को प्रोसेस कर सके .

किसी नए कंप्यूटर सिस्टम को यूज़ करने से पहले आपने देखा होगा की उसमे सबसे पहले एक operating system को install करना जरुरी हें

क्या बिना operating system के आप अपना computer सिस्टम यूज़ कर सकते हो ?

नहीं कर सकते हें क्योकि बिना ऑपरेटिंग सिस्टम (windows , Linux , android ) के कंप्यूटर स्टार्ट ही नहीं होगा

सिस्टम Software को low level language जैसे : मशीन लैंग्वेज , असेंबली लैंग्वेज दुआरा बनाया जाता हें |

कंप्यूटर की जानकारी हिंदी में पढ़े 

System Software के प्रकार :

ऑपरेटिंग System : जो कंप्यूटर के अन्दर इनस्टॉल सभी प्रोग्राम को मैनेज करता हें | और यूजर को ग्राफिकल यूजर इंटरफ़ेस (GUI ) प्रदान करता हें | जैसे :  विंडोज , लिनक्स , एंड्राइड

डिवाइस Driver : Software और हार्डवेयर के बीच तालमेल बनाने के लिए हम System Software के रूप में अलग अलग डिवाइस के Driver कंप्यूटर में डालते हें | जिससे कंप्यूटर System आसानी से काम कर पाता हें | जैसे : प्रिंटर Driver , साउंड Driver , ग्राफ़िक्स Driver

एप्लीकेशन Software :

ये Software ऐसे Software या प्रोग्राम होते हें जो किसी विशिष्ट specific  कार्य को करने के लिए बनाये जाते हें |या  जिनका इस्तेमाल हम वास्तविक कार्य को करने के लिए  करते हें |

इन Software का निर्माण यूजर की जरूरतों को ध्यान में रखकर किया जाता हें |

जैसा की हम जानते हें | सिस्टम Software बैकग्राउंड में काम करते हें | और उनका कोई  GUI  नहीं होता हें | बल्कि एप्लीकेशन Software का GUI होता हें जिससे इन Software को यूजर आसानी से चला पाते हें |

इन Softwareको बनाने के लिए High level programming language जैसे : java , .net , Python , C#  का यूज़ होता हें |

दिल्ली सरकार की पहल : जल ही जीवन हे। 

एप्लीकेशन Software के प्रकार :

जरुरत के हिसाब से अलग – अलग काम के लिए अलग अलग Software की जरुरत पड़ती हें .

application software का यूज़ हम सभी अपनी रोज मर्रा की जिंदगी में करते हें

web browser : internet पर कुछ भी सर्च करने के लिए हमें web browser की जरुरत पड़ती हें

audio , video software

whats app , Facebook app

लैटर लिखने के लिए  M.S WORD,

गाने सुनने के लिए VLC PLAYER,

PHOTO EDITOR ,

WEB BROWSER

ऑनलाइन फ्रॉड से कैसे बचे 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.