Sikkim Project in hindi (सिक्किम राज्य पर निबंध )

sikkim project in hindi , sikkim nibandh in hindi

भारत देश के नॉर्थईस्ट में बसा बहुत ही सुंदर सा राज्य है जिसे भारत का स्विज़रलैंड भी कहा जाता है। सिक्किम राज्य की सीमाएं उतर दिशा में तिब्बत से मिलती है। पूरब दिशा में भूटान देश , पश्चिम दिशा में नेपाल , साउथ (South ) दिशा में भारत के west bengal से मिलती है।

सिक्किम राज्य भारत का सबसे काम जनसँख्या वाला राज्य है। और आकर में यह भारत का 2nd सबसे छोटा राज्य है। भारत में हिमालय की सबसे ऊंची चोटी कांग्चेनजुगा (Kangchenjunga) और विश्व की 3rd सबसे ऊंची पर्वतमाला सिक्किम राज्य में ही स्थित है। यह स्थान विश्व भर के पर्यटकों के बीच में बहुत famous है।

सिक्किम राज्य की राजधानी गंगटोक है। जो सिक्किम राज्य की सबसे बड़ी सिटी भी है। सिक्किम राज्य का ज़्यदातर हिस्सा National Park से घिरा हुआ है। सिक्किम में स्थित Khangchendzonga National Park जो UNESCO की world Heritage Site में आता है यह सिक्किम के 35 % भाग में फ़ैला हुआ है। 

राजधानी 

गंगटोक 

सिक्किम के गवर्नर 
श्री गंगा प्रसाद 

मुख्य मंत्री 

प्रेम सिंह तमांग 

लोक सभा में सीट 

राज्य सभा में सीट 

विधान सभा 

32 सीट 

जिला (Districts) 

total 4 

हाई कोर्ट 

सिक्किम हाई कोर्ट 

सिक्किम का कुल एरिया 

7096 km

सिक्किम की कुल जनसख्याँ 

610577 

सिक्किम राज्य की Economy का बहुत बड़ा हिस्सा खेती और Tourism पर depend करता है। यह मसालों के उत्पादन के लिए विश्व भर में प्रख्यात है।

भारत चीन के बीच में बना हुआ नाथुला दर्रा भी सिक्किम में ही स्थित है। sikkim project in hindi

click Here : Art Integrated Project Sikkim

sikkim project in hindi सिक्किम संस्कृति

सिक्किम राज्य में विविध जनजातियों और समुदायों के लोग एक साथ रहते है। ये सभी जनजातियों और समुदायों में तरह तरह के भाषाओं , नृत्य , त्योहारों और संस्कृति में अनूठी और महानतम विशेषताएं देखने को मिलती है।

सिक्किम भाषाएँ

सिक्किम की प्रमुख भाषाएँ इग्लिश , नेपाली , सिक्किम और लेपचा जो राज्य के कुछ उतर पूर्वी हिस्से में बोली जाती है। सिक्किम में  अन्य भाषा भी बोली जाती है : Sherpa , Rai , limbu , gurung , तिब्बती कुछ और प्रमुख भाषाएँ है।

सिक्किम के त्यौहार

सिक्किम में अधिकांश लोग बौद्ध घर्म का पालन करते है। इसलिए भगवान बौद्ध से जुड़े हुए सभी त्यौहार को सिक्किम में बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। सिक्किम नेपाली लोगो के बीच में हिंदू घर्म का पालन किया जाता है। ऐसे में ये लोग हिन्दू धर्म से जुड़े हुए कई त्योहारों को मनाते है। यहाँ दिवाली को तिहार कहाँ जाता है।

सिक्किम में बहुत से पारम्परिक त्यौहार को भी यहां के लोग नृत्य और संगीत के साथ मनाते है : भीमसेन पूजा , माघे संक्रान्ति , चासोक तंगनाम , सकेला। भगवान बौद्ध के लिए :लोसार।  भूमचू , लहबाब , Duechen जैसे त्यौहार को सेलिब्रेट किया जाता है।

सिक्किम में लामाओं के द्वारा सांस्कृति कार्यक्रम में “चाम” नृत्य बहुत प्रसिद्ध है। जिसमे नृत्य करने वाले रंगीन मुखौटे पहनकर संगीत वाघयंत्र पर नृत्य करते है इसमें ड्रम और सींगो के दुआरा बजाया जाता है फिर इसकी ताल पर नृत्य किया जाता है।

सिक्किम के संगीत और नृत्य

दोस्तों सिक्किम के कल्चर में लोकगीत और नृत्य इसकी संस्कृति का बहुत बड़ा हिस्सा है। यहाँ पर आदिवासी लोग पारंपरिक वाद्यंत्र के साथ फसलों की समृद्धि के लिए नृत्य करते समय फसलों के मौसम का शो करते है। प्रमुख नृत्य : रेचुंग्मा , गुनूनमाला और कदयेद नृत्य।

सिक्किम की कला और शिल्प

सिक्किम में महिलाये में बुनकर का अद्भुत कार्यशीलता होती है इनके द्वारा हस्तनिर्मित कालीन और घर में सजाने के  लिए बने उत्पादों की बहुत माँग होती है। सिक्किम की सबसे प्रमुख हस्तकला में चौकसी टेबल , क़ालीन , दीवारों पर लटकाने वाली पेंटिंग्स आदि।

सिक्किम के प्रमुख खेल

दोस्तों आपने भारत के फुटबॉल खिलाडी बाईचुग भूटिया का नाम जरुर सुना होगा वह भारत के महानतम फूटबाल खिलाडियो में से एक है सिक्किम राज्य में फूटबाल खेल सबसे लोकप्रिय खेलो में से एक हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published.